Chennai: बेटे के बाद पिता ने भी कर ली खुदखुशी , जानें क्या है पूरा मामला…

Chennai : तमिलनाडु के चेन्नई से बड़ी खबर आई है। यहां 19 साल के युवक ने NEET एंट्रेंस एग्जाम क्लियर नहीं हो पाने से आत्महत्या कर ली। इसके एक दिन बाद ही पिता ने भी जान दे दी। पुलिस ने कहा कि वह लड़के के पिता चेन्नई में अपने घर पर मृत पाए गए।

जानकारी के अनुसार, जगदीश्वरन नाम के छात्र ने 427 अंकों के साथ बारहवीं की परीक्षा पास करने के बाद दो अटेम्प्ट में नीट एंट्रेंस क्लियर नहीं कर पाया था। जिसकी वजह से वह काफी परेशान था और डीप्रेशन में चला गया था। शनिवार को उसने अपने पिता के कॉल का जवाब नहीं दिया और घर पर मृत अवस्था में पाया गया। अगली सुबह उसके पिता सेल्वासेकर भी घर पर मृत पाए गए.पुलिस ने कहा कि वह अपने बेटे की मौत के गम को नहीं झेल पाए और अपने घर पर फांसी लगा ली।

तमिलनाडु मुख्यमंत्री ने जताया शोक

इस घटना के बाद तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने मौतों पर शोक व्यक्त किया और छात्रों से अपील की है कि वे “आत्महत्या के विचार न लाएं बल्कि आत्मविश्वास रखें और जीवन जिएं”

 

बता दें कि 2021 में, तमिलनाडु विधानसभा ने NEET से छूट की मांग करते हुए एक बिल पारित किया, जिसमें तर्क दिया गया था कि यह उन संपन्न छात्रों का पक्ष में है जो निजी कोचिंग का खर्च उठा सकते हैं और गरीब परिवारों और ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को नुकसान में डालता है। भले ही उन्होंने अपनी बारहवीं कक्षा की परीक्षा में उच्च अंक प्राप्त किए हों। इससे लगभग एक दशक पहले, राज्य ने मेडिकल में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम को खत्म कर दिया था और छात्रों को बारहवीं कक्षा के अंकों के आधार पर एमबीबीएस प्रोग्राम में एडमिशन दिया था। राज्यपाल आरएन रवि ने विधानसभा से दोबारा पारित होने के बाद इस विधेयक को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के पास मंजूरी के लिए भेज दिया।

Related Articles

Back to top button